भारत में हुए १० महान अविष्कार


हेल्लो दोस्तों स्वागत हे अप सब का हमारे आज के इस नए आर्टिकल में तो आज हम जानेगे हमारे दुनिया के १० सबसे महत्वपूर्ण एसे अविष्कार जिनको भारत में खोजा गया ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "

दोस्तों हम सब तो जानते ही हे .की भारत दुनिया का विश्व गुरु हे .एसा हम नहीं बल्कि पुरानो में कहा गया हे .
कई एसे महान लोग भारत में हो चुके हे जिनके कारण हमारी आज की ये दुनिया इस तरह की हे .

एक समय था जब हमारे भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था वो एसेही नहीं कहा करते the .
क्योकि उस समय भारत उतना संपन्न देश हुआ करता था .

तो इसी लिए आज हम जानने वाले हे १० एसे अविष्कारों के बारे में जो भारत में खोजे गए और उन्होंने हमारी दुनिया को बदल कर रख दिया .

तो अगर आप भी इन बातो को जानने में interested हे तो आप इस आर्टिकल को पूरा जरुर पढ़िए .
क्योकि इस आर्टिकल को पढने के साथ आपको ज्ञान तो मिलेगाही पर साथ में आपका मनोरंजन भी हो जायेगा .

तो चलिए शुरु करते हे .


भारत में हुए १० महान अविष्कार
भारत में हुए १० महान अविष्कार 


दोस्तों जरा सोचिये अगर आपको में कुछ कपडे पहनने को दू और उसमे बटन ही न हो तो .वो केसे लगेगे
इसका जवाब हे आप बिलकुल भी अच्छे नहीं लगेगे .

आप पूरी तरह कार्टून लगेगे. तो देखिये बटन का अविष्कार कितना महत्वपूर्ण हे .
बटन का अविष्कार भारत में मोह्न्जोदोड़ो में हुआ था 2000 BC पहले

हम बटन को बहुत ही मामूली चीज समजते हे .पर क्या आपने कभी ये सोचा हे . की आखिर बटन का अविष्कार केसे और किस कारन हे हुआ होंगा . आज के समय में बटन को पूरी दुनिया इस्तमाल करती हे जिसका शोध भारत में हुआ हे ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "


अब बटन तो हो गया पर क्या आप जानते हे .आज के आधुनिक युग में हम और पुरि दुनिया जो भी कपडे पहनती हे वो भी भारत के वजह से ही हे . पुराने ज़माने में लोग जानवरों की खाल को ही पहना करते the .
जब तक कपास के खेती का शोध नहीं लगा .

सबसे पहले दुनिया में भारत में ही कपास की खेती की गयी और उससे कपडे बनाये गए . फिर बाद में ये कपास की खेती पूरी दुनिया करने लगी और कॉटन के  कपडे पूरी दुनिया में फ़ैल गए ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "


कंप्यूटर को समजने वाली भाषा यानि binary code इसका भी अविष्कार सबसे पहले भारत में हुआ था .
इसका शोध 200BC में हुआ था .

पिंगल एक लेखक का नाम हे जिन्होंने चंदा शास्त्र नाम की एक पुस्तक की रचना की हे .
पिंगल उस समय के सबसे महान संस्कृत लेखक the .

जिन लोगो को नहीं पता शायद वो समजते होंगे की binary code का अविष्कार किसी विदेश में हुआ होंन्गा पर एसा  
नहीं हे binary कोड्स का अविष्कार भी हमारे भारत में ही हुआ था ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "

  • Ink


आपको शायद ये जानकर हेरानी होंगी की दुनिया में सबसे पहले इंक का इस्तमाल करने वाला भारत ही पहला देश हे .

हमारे भारत में ink का प्रयोग 4 शताब्दी से ही किया जाता आ रहा हे .’बस फर्क इतना हे की पुराने ज़माने में लकड़ी को ink में डूबकर हमारे भारतीय लोग लिखा करते the .और अब आधुनिक यूग में पेन आ गए हे

सबसे पहले ink को बनाने के लिए कार्बन पिगमेंट का इस्तमाल किया गया था .
और लकड़ी के साथ मोर के पंक के नुकीले भाग को ink में डूबकर लिखा जाता था

और फिर इसके बाद पेन का अविष्कार हुआ . और भी  बहुत से तरीके आ गए लिखने के लिए
पेन का अविष्कार “लेविस इ वॉटरमार्क” ने किया था ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "

  • Steel


पूरी दुनिया में सबसे पहले अगर कीसी देश ने धातु विज्ञानं को समजा था तो वो देश भारत था .
भारत में ही सबसे पहले स्टील और अन्य धातुओ पर परिक्षण करके इनको इस्तमाल में लाया गया .

माना जाता हे की इन सब की शुरुवात भारत में काश्मीर में हुई थी .हम सब तो ये जानते ही हे की स्टील में जंग नहीं लगता इसीलिए आज के समय में लोग स्टील का बहुत ज्यादा इस्तमाल करने लगे हे .तो सोचिये अगर स्टील को भारत में नहीं खोजा होता तो क्या होता .

  • Optical Fibre


दोस्तों optical फाइबर का अविष्कार Dr .नरेन्द्र सिंघ जी ने किया था . एन्हीको फाठेर ऑफ़ ऑप्टिकल फाइबर भी कहा जाता हे . आप चाहे तो गूगल पे ये search कर सकते हे .

आप और हम आज जो ये इंटरनेट use कर रहे हे .वो आखिर इतना फ़ास्ट केसे चलता हे हमने शायद ये कभी सोचा नहीं होंगा .पर आपको बता दे की ये ऑप्टिकल फाइबर के मदत से ही आज कल इतना फ़ास्ट इंटरनेट हम use कर प् रहे हे .

जिसका हमारे देश के अविष्कारक ने ही बनाया हे . हमारे लिए ये बड़ी गर्व की बात हे .

  • Plastic Surgery


आज के समय में भी plastic surgery को मेडिकल science में सबसे कठिन काम माना जाता हे जिसकी खोज हमारे भारत में हुई हे .

2000 BC से ही हमारे देश में प्लास्टिक सेर्गेरी होती आई हे .इसका सीधा मतलब ये निकलता हे .की हमारा देश हमेशा से ही अविष्कारों का देश हे .

आपको में बताना चाहूँगा की सिर्फ ये एक नहीं और भी बहुत से एसे शोध हे जिसकी खोज भारत में हुई थी.पर किसी कारण वश वो अविष्कार दुनिया के सामने न आ सके .

  • Radio Wireless संचार


हम सभी को यह पता हे की ये अविष्कार मार्कोनी ने किया हे और इसके लिये उनको नोबल पुरस्कार भी१९०९ मिल चूका हे  .

पर आपको शायद ये पता नहीं हे की इससे भी 14 साल पहले १८९५ में dr जगदीश चन्द्र बसु ने लोगो के सामने radioतरंगो का प्रयोग किया था .

तो इससे हमें ये समज में आता हे की हमारे देश में पहले से ही अविष्कारों की संक्या कम नहीं हे .

  • चाँद पे पानी


दोस्तों इस बात से तो शायद ही कोई अनजान होंगा की हमारे देश के space agency इसरो के चंद्रयान 1 ने ही ये खोजा था की चाँद पे पानी बर्फ के रूप में मोजूद हे .

इससे पहले पुरु दुनिया को ये लगता था की चन्द्र के सुखा और चट्टानों का ग्रह हे .
पर इसरो के इस खोज ने लोगो की चाँद से जुडी कई साडी धर्नाये बादल कर रख दी .

  • हीरे की खदाने


आपको बता दे के 17 वि शताब्दी तक पुरु दुनिया में भारत ही एसा एक मात्र देश हुआ करता था जिसमे हीरे की खदाने मिलती था .

उस समय पुरु दुनिया में मिलने वाले हीरे भारत के खदानों से ही निकले हुए होते the .
फिर 18 शताब्दी में ब्राज़ील में भी हीरे की खदाने मिल गयी थी .आज से करीब 5 हजार साल पहले सिर्फ भारत में पास ही हीरे हुआ करते the  

तो दोस्तों देखा आपने की हमारे देश भारत में कितने सारे अविष्कार हुए हे .जिनके बारे में शायद ही हमको आज से पहले पता था .

मुजे आशा हे की आज की ये हमारी post को पढ़कर आपको हमारे भारत पे पहले हे भी ज्यादा गर्व महसूस होने लगेगा की हम इतने महान देश के निवासी हे .

तो अगर आपको भी हमारी आज की ये post जरा भी अच्छी लगी और इससे आपको जरा भी कुछ नया जानने को मिला हे तो आप हमारे आर्टिकल को जरुर share कीजिये ."भारत में हुए १० महान अविष्कार "
और निचे कोई अच्छा सा comment भी कर दे .

अगर आपको इसी तरह के और भी अच्छे अच्छे आर्टिकल को पढना हे तो आप हमारी वेबसाइट को रोजाना विजिट कीजिये आपको यहाँ पर हर वक्त कुछ न कुछ जाननें को मिलता रहेगा .
धन्यवाद

No comments

Powered by Blogger.